बुक्स हिंदी 

Sale!

दस प्रतिनिधि कहानियाँ : फणीश्वरनाथ रेणु / Dus Pratinidhi Kahaniyan : Phanishwar Renu

225.00 191.25

ISBN : 978-93-81467-01-5
Edition: 2019
Pages: 152
Language: Hindi
Format: Hardback


Author : Phanishwar Renu

Category:
दस प्रतिनिधि कहानियाँ : फणीश्वरनाथ रेणु
‘दस प्रतिनिधि कहानियाँ’ सीरीज़ किताबघर प्रकाशन की एक महत्त्वाकांक्षी कथा-योजना है, जिसमें हिन्दी कथा-जगत् के सभी शीर्षस्थ कथाकारों को प्रस्तुत किया जा रहा है ।
इस सीरीज़ में सम्मिलित कहानीकारों से यह अपेक्षा की गई है कि वे अपने संपूर्ण कथा-दौर से उन दस कहानियों का चयन करें, जो पाठको, समीक्षकों तथा संपादकों के लिए मील का पत्थर रही हों तथा ये ऐसी कहानियाँ भी हों, जिनकी वजह से उन्हें स्वयं को भी कहानीकार होने का अहसास बना रहा हो। भूमिका-स्वरूप कथाकार का एक वक्तव्य भी इस सीरीज़ के लिए आमंत्रित किया गया है, जिसमें प्रस्तुत कहानियों को प्रतिनिधित्व सौंपने की बात पर चर्चा करना अपेक्षित रहा है ।
किताबघर प्रकाशन गौरवान्वित है कि इस सीरीज़ के लिए सभी कथाकारों का उसे सहज सहयोग मिला है। इस सीरीज़ के महत्त्वपूर्ण कथाकार फणीश्वरनाथ रेणु ने प्रस्तुत संकलन में अपनी जिन दस कहानियों को प्रस्तुत किया है, वे हैं : ‘रसप्रिया’, ‘नैना जोगिन’, ‘तीर्थोदक’, ‘तॉबे एकता चलो रे’, ‘एक श्रावणी दोपहरी की धूप’, ‘पुरानी कहानी : नया पाठ’, ‘भित्तिचित्र की मयूरि, ‘आत्म-साक्षी’, ‘एक आदिम रात्रि की महक’ तथा ‘तीसरी कसम, अर्थात् मारे गए गुलफाम’  ।
हमें विश्वास है कि इस सीरीज़ के माध्यम से पाठक सुविख्यात लेखक फणीश्वरनाथ रेणु की प्रतिनिधि कहानियों को एक ही जिल्द में पाकर सुखद पाठकीय संतोष का अनुभव करेंगें ।
Home
Account
Cart
Search
×

Hello!

Click one of our contacts below to chat on WhatsApp

× How can I help you?