Sale!

चैतन्य महाप्रभु / chaitanya Mahaprabhu

150.00 127.50

ISBN: 978-81-88466-34-4
Edition: 2018
Pages: 52
Language: Hindi
Format: Hardback


Author : Hari Krishna Devsare

Out of stock

Compare
Category:

Description

घर के बार एक शिशु धूल में खेल रहा था। वह घुटनों के बल चलकर इधर-उधर भागता और जोर से किलकारी मारता। उसका सुंदर गोरा मुखड़ा और घुंघराले बाल वहाँ से गुजरने वालों का मन सहज ही मोह रहे थे। उस शिशु के गले में सोने की जंजीर लटक रही थी। हाथों में सोने के चूड़े थे और कमर में सोने की करधनी थी। खेलते-खेलते वह शिशु घर से थोड़ा आगे निकल गया। तभी वहां से दो चोर निकले। उन्होंने शिशु को देखा और उसके गहने देखे। उनके मुंह में पानी आ गया। सोचा, किसी तरह इसे फुसलाकर उठा ले चलें तो इसके गहने हमारे हाथ लग जाएंगे।
-इसी पुस्तक से

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “चैतन्य महाप्रभु / chaitanya Mahaprabhu”

Your email address will not be published. Required fields are marked *