Sale!

सिखों का इतिहास (2 खंडों में) / Sikhon Ka Itihaas (Two Volumes)

1,295.00 1,100.75

ISBN: 978-81-908204-4-8
Edition: 2017
Pages: 956
Language: Hindi
Format: Hardback

Author : Khushwant Singh

Compare
Category:

Description

पुस्तक में उस सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक पृष्ठभूमि की चर्चा है, जिसके चलते पंद्रहवी शताब्दी में सिख धर्म अस्तित्व में आया। फारसी, गुरुमुखी और अंग्रेजी के मूल दस्तावेजों पर आधारित अपने विवरणों में लेखक सिखत्व के विकास को चिन्हित करता है और ‘ग्रंथ साहिब’ में इसके पवित्र धर्म-सिद्धांतों के संकलन के बारे में बताता है।

इसमें सिखों के, एक शांतिवादी पंथ से, गुरु गोबिंद सिंह के नेतृत्व में लड़ाकू संप्रदाय ‘खालसा’ में परिवर्तित होने तथा महाराजा रंजीत सिंह द्वारा सिख-शक्ति के समेकन से पहले, मुगलों और अफगानों के साथ उनके संबंधों को विस्तार से वर्णित किया गया है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “सिखों का इतिहास (2 खंडों में) / Sikhon Ka Itihaas (Two Volumes)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *