Sale!

समय की रोशनी में / Samay ki Roshni Mein

350.00 297.50

ISBN: 978-93-83233-66-3
Edition: 2016
Pages: 152
Language: Hindi
Format: Hardback

Author : Raj Narain Bisaria

Compare
Category:

Description

मुझको न कुछ टोटा रहा
खुश हूं न कुछ खोटा रहा,
मुझको बड़ा सन्तोष है
मैं उम्र भर छोटा रहा।
*
चले साथ का
खास अहसास लेकर
मुड़ें आप, मैं भी नये मोड़ को लूं!
*
नदी से बिछुड़ कर
लहर सोचती है
न क्यों रेत से आज मुंह-हाथ धोलूं!
*
केवल
गहरे संवेदन ही
धड़कन देते हैं,
वरना मुखड़ा कांच खिलौना
अक्सर होता है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “समय की रोशनी में / Samay ki Roshni Mein”

Your email address will not be published. Required fields are marked *