Sale!

भारत के प्रमुख साहित्यकारों से अन्तरंग बातचीत / Bharat Ke Pramukh Sahityakaron se Antrang Baatchit

450.00 382.50

ISBN : 978-81-89982-12-6
Edition: 2010
Pages: 304
Language: Hindi
Format: Hardback

Author : Ranveer Rangra

Compare
Category:

Description

भारत के प्रमुख साहित्यकारों से अन्तरंग बातचीत
किताबघर प्रकाशन श्रेष्ठ भारतीय साहित्य के आदान-प्रदान से भी सक्रिय रहा है । भारतीयता और भारतीय साहित्य की अंतर्धारा को समझने के लिए यह अनिवार्य है कि हम अपनी भाषा की सीमारेखाओं से बाहर भी झाँकें । प्रमुख भारतीय साहित्यकारों को एक मंच पर लाने की दिशा में हमारा पहला अभिनव प्रयोग था ‘भारतीय लेखिकाओं से साक्षात्कार’ । प्रस्तुत प्रकाशन उसी की अगली कड़ी है जिससे भारत के पच्चीस साहित्यकारों से इस विधा के विशेषज्ञ डॉ० रणवीर रांग्रा की अन्तरंग बातचीत सम्मितित है, जिसके माध्यम से अनेक ऐसे रचना-रहस्य प्रकाश में आए हैं जिनसे अब तक हिंदी-जगत ही नहीं, भारतीय साहित्य-समाज भी अनभिज्ञ था ।
इस प्रकार, यह पुस्तक मात्र एक और प्रकाशन नहीं, बल्कि एक दस्तावेज से जिसका उपयोग भारतीय साहित्य के संदर्भ-ग्रंथ के रूप में भी किया जा सकता है । आशा हैं, इससे प्रबुद्ध पाठको की अनेक जिज्ञासाओं का समाधान हो सकेगा और उन्हें एक ऐसी अंतर्दूष्टि प्राप्त होगी जिससे समकालीन भारतीय साहित्य की आत्मा तक पहुंचने में सहायता मिलेगी ।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “भारत के प्रमुख साहित्यकारों से अन्तरंग बातचीत / Bharat Ke Pramukh Sahityakaron se Antrang Baatchit”

Your email address will not be published. Required fields are marked *