Sale!

Bandhu The Padaav Sabhi / बन्धु थे बड़ाव सभी

180.00 153.00

ISBN: 978-93-91797-03-4
Edition: 2021
Pages: 80
Language: Hindi
Format: Hardback


Author : Ramesh Chandra Shah

Compare
Category:

Description

क्यों उघड़ आते
अचानक
हर किसी के सामने तुम?

बात जड़ पकड़े
तभी
वह
बात है।

सामने
यह जो तुम्हारे
खड़खड़ाता…
वह नहीं है पेड़
या, मिट्टी;

महज़
चालू हवा का
आदतन
उत्पात है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Bandhu The Padaav Sabhi / बन्धु थे बड़ाव सभी”

Your email address will not be published. Required fields are marked *