Sale!

UJALI DHOOP

200.00 170.00

ISBN : 9789384343316
Edition: 2015
Pages: 144
Language: Hindi
Format: Hardback
Author : Rashmi Gaur

Compare
Category:

Description

इस देश में कथा-कहानियों की परंपरा विश्व में सबसे प्राचीन है। घर के बड़े-बुजुर्ग कथा-कहानियों के माध्यम से बच्चों की माँग पूरी करते हैं, साथ-ही-साथ उन्हें मनोरंजक बनाकर सुनाते भी हैं।

इस कहानी-संग्रह में मुख्यतः बुजुर्ग वर्ग की पीड़ा बयाँ करती कहानियाँ हैं। 21वीं सदी की पीढ़ी बड़ी बेसब्री की हद तक महत्त्वाकांक्षी हो रही है। सबकुछ लेटेस्ट चाहिए उन्हें! बड़ी-से-बड़ी गाड़ी, लेटेस्ट फोन, टेबलेट, घडि़याँ आदि। इस दौड़ में वे माँ-बाप को भूल जाती हैं, जिन्होंने उन्हें इस लायक बनाया है। ‘चिट्ठी आई है’, ‘डी.एन.ए.’, ‘धोबी का कुत्ता’ कहानियाँ नहीं हैं, हकीकत हैं, आज का सच हैं। ‘फरिश्ता’, ‘दादी : एक युग’, ‘उलटी पट्टी’ हलकी-फुलकी चुटकियाँ हैं। ‘उजली धूप’ जीवन-संध्या की समस्या को लेकर है, वहीं टॉप करने की धुन में जीवन गँवानेवाली प्यारी सी बच्ची की मार्मिक दास्तान है ‘हजारों चाँद’।

अत्यंत मर्मस्पर्शी एवं पठनीय कहानियाँ, जो पाठक के अंतर्मन को छू लेंगी।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “UJALI DHOOP”

Your email address will not be published. Required fields are marked *