Sale!

Jo Maine Jiya | जो मैंने जिया

225.00 191.25

ISBN : 9788170281220
Edition: 2014
Pages:  224
Language: Hindi
Format: Hardback
Author : Kamleshwar

Compare
Category:

Description

अपनी मौलिक सूझबूझ और नज़रिये को लेकर लगातार चर्चित तथा विवादास्पद रहने वाले कमलेश्वर की बातें रोचक भी है और पाठकों को अपने साथ अतीत व भविष्य में बहा ले जाने का मादूदा भी रखती है। उम्र की एक खास दहलीज पर पैर रखते ही आदमी को अचानक बीते दिन घेरने लगते है, यादों के धुंधले अक्स साफ दिखने लगते है और बेहद याद आने लगते हैँ–वक्त की पिछली गलियों, घोडों, चौराहों पर पीछे छुट गये लोगों और इन यादों के झरोखे से दिखाई देती है एक पूरी दुनिया-हलचलों, दोस्ती-दुश्मनी, आधी शताब्दी के अनेक छोटे- बड़े साहित्यिक कारनामों और इतिहास-प्रसंगों से भरी-पूरी दुनिया। ‘जो मैंने जिया’ में कमलेश्वर की इसी दुनिया का चित्रण है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Jo Maine Jiya | जो मैंने जिया”

Your email address will not be published. Required fields are marked *