Sale!

चिंतन करें चिंतामुक्त रहें / Chintan Karen Chintamukt Rahen (PB)

80.00 72.00

ISBN: 978-93-80048-20-8
Edition:  2014
Pages: 96
Language: Hindi
Format: Paperback

Author : Swett Marden

Compare
Category:

Description

चिंता और चिंतन एक ही माँ की दो संतानें हैं । चिंताग्रस्त व्यक्ति चिंतित रहते हैं और सफल नहीं होते, क्योंकि उन्हें चिंता हर समय असफलता की ओर धकेलती रहती है । परंतु जो व्यक्ति चिंता को भूलकर चिंतन करते  हैं, वे संसार में सफलता प्राप्त करते हैं और अपना नाम अमर कर जाते हैं ।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “चिंतन करें चिंतामुक्त रहें / Chintan Karen Chintamukt Rahen (PB)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *